संजू सैमसन

गुरुवार को लखनऊ के इकाना क्रिकेट स्टेडियम में भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहला वनडे खेला था. दक्षिण अफ्रीका ने इस वर्षा बाधित मैच में 9 रन से जीत अपने नाम की. बारिश के चलते हुए मुकाबले को 40-40 ओवर का किया गया था. यह बहुत दुख की बात है कि संजू सैमसन के खेल के दौरान अर्धशतक लगाने पर भी जीत भारतीय टीम की नहीं हुई.

दक्षिण अफ्रीका की सीरीज में बढ़त

टॉस के दौरान भारतीय टीम ने टॉस जीता और इसी कारण दक्षिण अफ्रीका पहले बल्लेबाजी के लिए उतर गयी. दक्षिण अफ्रीका की टीम ने निर्धारित 40 ओवर पर 249 रन बनाए. जिसके बाद भारतीय टीम फील्ड में उतरी और 40 ओवर में 240 रन ही अपने नाम कर पाई. इस जीत के साथ दक्षिण अफ्रीका की टीम तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना रही है.

भारतीय टीम के खिलाड़ी संजू सैमसन ने 250 रन बनाने के लक्ष्य का पीछा करते हुए 65 गेंदों पर 9 चौके और तीन छक्के लगाकर 86 रन बनाए. वहीं दूसरी तरफ भारतीय टीम के खिलाड़ी श्रेयस अय्यर ने 37 गेंदों पर आठ चौके लगाते हुए 50 रन अपने नाम किए. आपको बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी पेसर लूंगी ने 3 विकेट अपने नाम किए.

संजू सैमसन

संजू सैमसन ने की गलती

केरल के शानदार बल्लेबाज संजू रन बनाने की पूरी कोशिश कर रहे थे और अंतिम समय में भारतीय टीम को 3 ओवर में 45 रन बनाने थे और उस समय क्रीज पर शार्दुल ठाकुर और संजू सैमसन मौजूद थे . दक्षिण अफ्रीका की टीम में से पेसर लूंगी को ओवर के लिए गेंद दी गई थी. इसमें पहली गेम वाइट रही और फिर संजू ने चौका मार दिया इसकी अगली गेंद पर सिंगल रन लिया गया लेकिन तीसरी बॉल पर शार्दुल ठाकुर को केशव ने कैच आउट कर दिया.

इसके बाद कुलदीप यादव बावुमा के हाथ चौथी गेंद पर लपके गए. फिर आवेश खान बल्लेबाजी के लिए उतरे और इस ओवर की आखिरी गेंद पर भी सैमसंग सिंगल रंग नहीं ले पाए और अगले ओवर में स्ट्राइक आवेश खान को मिल गई अगर उस समय सैमसंग सिंगल रन ले जाता तो अगले ओवर में स्ट्राइक संजू को मिलती और शायद मैच की जीत भारतीय टीम के नाम होती.

39 वे ओवर पर बने केवल 7 रन

39वे ओवर पर आवेश खेल रहे थे और उन्होंने शुरुआती की गेंदों में कोई भी रन नहीं लिया था फिर अगली दो गेंदों पर सिर्फ दो ही रन ले पाए और पांचवी गेंद पर आवेश आउट ही हो गए. इस तरह 5 गेंदों पर कुल मिलाकर दो ही रन बन पाये .इसके बाद आखिरी गेंद पर रवि बिश्नोई ने चौका मार दिया और आखिरी ओवर का दबाब संजू पर आ गया और तब टीम इंडिया की जीत के लिए 30 रनों की जरूरत थी.

तबरेज शम्मी के लास्ट ओवर की पहली गेंद वाइट रही, इसके बाद सैमसंग ने छक्का जड़ा और अगले 4 में से 3 पर चौका लगाया और आखिरी गेंद पर सैमसंग में सिंगल रन दिया और दक्षिणी अफ्रीका की टीम इस तरह 9 रन से जीत गयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *