विराट कोहली को लेकर पूछे गए सवाल का अफरीदी ने इन 5 शब्दों में दिया जवाब

जहा सफलता की चमक होती है वहां असफलता की धुप छांव भी होती है. 

क्रिकेटर का भी कुछ ऐसा ही हाल है उन्हें भी सफलता और असफलता 

दोनों का सामना करना पड़ता है। क्रिकेर्ट्स का सफल होना तो जैसे उनके रन बनाने पर 

निर्भर करता है। जितने ज्यादा शतक और रन का स्कोर उतने ज्यादा फैंस 

इसी सिलसिले में हाल फ़िलहाल सफलता और असफलता के दौर के बीच विराट कोहली झूल रहे है 

उनका भविष्य दांव पर है उनके भविस्य को लेकर सभी की अपने कवायदे है 

की आगे वो एक बार फिर अच्छे क्रिकेटर साबित हो पाएंगे या नहीं